.

.
** हेलो जिन्दगी * * तुझसे हूँ रु-ब-रु * * ले चल जहां * *

Wednesday, March 5, 2014

भारत की नारी


१)सरगम है लोरी है 

भारत की नारी 
रेशम की डोरी है । 

२)
अबला जिसको  माना 
लक्ष्मी बाई है 
तुम भूल नही जाना । 


३)
बाती - सी जलती है
दीपक बन नारी
घर का तम हरती है ।
४)
सीता का सत जिसमे
तुलसी - सी पावन
गौरी का तप इसमें ।


5)
सपने लाखो मन में
करुणा का सागर
कजरारी आँखों में

६)
परिवार न पूरा है
नारी तेरे बिन
ब्रह्माण्ड अधुरा है ।


७)
बिन पात न पेड़ सजे
मसली जो कलियाँ
फल फूल कहाँ उपजे । 
Post a Comment
Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...