.

.
** हेलो जिन्दगी * * तुझसे हूँ रु-ब-रु * * ले चल जहां * *

Sunday, November 20, 2016

बेवफा

बेवफा
__________
सोनम गुप्ता बेवफा है
सोनम गुप्ता तुम बेवफा हो
ये तुमने ठीक नही किया
तुम्हे ऐसा नहीं करना चाहिए था
तुम्हे ऐसा करने का कोई अधिकार ही नही था
उफ्फ्फ
तुमने अमर प्रेम को कलंकित कर दिया
नहीं नहीं---
अब कोई सफाई नही --
कोई सुनवाई नही होगी अब --
सोनवीर ने कह दिया तुम बेवफा हो तो हो ।
सदियो से यही होता आया है
सोनम मजबूरियाँ बता कर बेवफाई कर जाती हैं
और बेचारा सोनवीर ....
वो कभी बेवफा नही होता
बस
कभी थोड़ा नजर सेंक लेता है
कभी फूलों पर थोड़ा मँडरा लेता है
कभी स्वाद बदलने के लिए बाहर की बिरयानी खा आता है
आज्ञाकारी पूत बन कर मज़बूरी में किसी और से व्याह रच लेता है
पर बेवफाई नही करता
कभी नहीं
इन सबके बाबजूद
आसमान के इस छोर से लेकर उस छोर तक
वह बस सिर्फ और सिर्फ तुम्हे चाहता  है
देखो तुम्हारी बेवफाई ने क्या हाल कर  दिया उसका
ओह्ह
दिल दिमाग बेकाबू हो गया है
कभी ग़मगीन शायरी में
कभी हाथ की नसे काट कर
कभी सूसाइड नोट पर
और  कभी
करेंसी पर
तुम्हारा नाम लिख लिख कर
अपनी वफ़ा का सबूत दिखा दिखा
अपने सच्चे पवित्र प्यार का परचम लहरा  रहा है
 देखो सोनम गुप्ता
अपने प्यार को उसने अमर कर दिया
तुम्हारे नाम को अमर दिया
क्या  कहा ?
उसने तुम्हे बदनाम कर दिया ?
तुम्हारे प्यार का मजाक बना दिया ?
कही मुँह छुपाने लायक नही छोड़ा ?
नहीं नहीं सोनम गुप्ता
ये तो उसके सच्चे प्रेम की पराकाष्ठा है
उसने सच्चे प्रेमी होने की निशानी है
बेवफा तो तुम हो सोनम गुप्ता।
 .... तुम
क्योंकि तुमने परिवार की खातिर ,
अपने प्यार की जान की  सलामती की खातिर
उस से मुँह मोड़ लिया
ये तुमने अच्छा नही किया
सोनम गुप्ता
जमाना तुम्हारी बेवफाई को कभी माफ़ नही करेगा
सोनम गुप्ता
_________________________________________
अगर वास्तव में कोई सोनम गुप्ता और सोनवीर सिंह है तो उनसे माफ़ी सहित ___/\__


Post a Comment
Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...